सॉफ्टवेयर टेक्नोलॉजी पार्क्स ऑफ़ इंडिया, हैदराबाद
इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय, भारत सरकार
ENGLISH

 












 
एसटीपी योजना के अंतर्गत निर्यात इकाई की स्थापना करने के लिए दिशा-निर्देश

  पंजीकरण किसके लिए हैं ?
  रजिस्टर कौन कर सकता हैं ?
  क्यों ?
  रजिस्टर कैसे करें& ?
  किसके द्वारा और कितनी जल्दी स्वीकृति ?
  आपरेशन की अवधि
  अनुमानित निर्यात के अनुसार शुल्क का ढांचा
  परिसर के बारे में
  संचालन आरम्भ करना
  निर्यात कैसे करें
  ऑनसाइट परामर्शी परियोजनायें
  घरेलू बाजार में बिक्रय
  प्रशिक्षण के लिए कंप्यूटर सिस्टम का प्रयोग
  उपकरणों का निष्पादन
  पुराने उपकरण
  योजना से बाहर निकलना
  इकाई का दायित्व क्या हैं- क्या करें और क्या नहीं करें
  नियमों और विनियमों का अनुपालन
  आंध्र प्रदेश राज्य सरकार द्वारा आईटी उद्योग को प्रदान किया गया प्रोत्साहन



1. पंजीकरण किसके लिए हैं ?

100% निर्यातोन्मुख इकाई (ईओयू) की स्थापना के लिए, जो निर्यात के लिए कंप्यूटर सॉफ्टवेयर का विकास करती है निम्न गतिविधियों को इस योजना के अधीन शामिल किया गया है।

  1. निर्यात के लिए भारत में सॉफ्टवेयर का निर्माण /विकास ।
  2. विदेशों में ग्राहक के स्थल पर सॉफ्टवेयर के विकास के लिए ऑनसाइट परामर्श सेवाएं।
  3. आईटी सक्षम उत्पाद और सेवा जैसे कि बैंक ऑफिस संचालन, कॉल सेंटर, विषय-वस्तु विकास या एनीमेशन, डाटा प्रोसेसिंग, इंजीनियरिंग और डिजाइन, भौगोलिक सूचना प्रणाली सेवा, मानव संसाधन सेवायें, बीमा दावा प्रावधान , कानूनी डेटाबेस, मेडिकल ट्रांसक्रिप्शन, पेरोल, दूरदराज का रखरखाव, राजस्व लेखा सहायता केन्द्र और वेबसाइट सेवाओं, “ऐसी सेवाओं के लिए मुफ्त विदेशी मुद्रा में भुगतान प्राप्त करता है।"
  4. पूर्व अनुमति के साथ निर्यात के एफओबी मूल्य के 50% तक के वस्तु को घरेलू बाजार में बिक्री करने की अनुमति है।

ऊपर जायें

2. रजिस्टर कौन कर सकता हैं ?

  • एकल कारोबारी फर्म ।
  • साझेदारी फर्म।
  • भारतीय कंपनी।
  • किसी विदेशी कंपनी की भारतीय सहायक कंपनी।
  • विदेशी कंपनी का शाखा कार्यालय।
  • भारत में कार्यरत मौजूदा सॉफ्टवेयर कंपनी।
  • एक मौजूदा डीटीए इकाई को एसटीपी इकाई में रूपांतरण करने की भी अनुमति है।
  • यदि कोई औद्यौगिक इकाई घरेलू इकाई के साथ साथ एक एस टी पी इकाई के रूप में संचालित हो रहा हो तो इसे दो भिन्न खातों के साथ पृथक पहचान रखना होगा. परन्तु आयात और निर्यात से संबंधित सभी लेनदेन या एस टी पी इकाई के 100% ई ओ यू के कार्यों से प्रभावित आपूर्ति को निश्चित रूप से कंपनी के घरेलू इकाई के द्वारा किये गए कार्यों से अलग रखा जायेगा।

ऊपर जायें

3.क्यों ?

विशेषताएं:

  • एकल खिड़की मंजूरी और अनुमोदन।
  • आयात पर सीमा शुल्क में पूर्ण छूट।
  • स्वदेशी खरीद पर केन्द्रीय उत्पाद शुल्क में पूर्ण छूट।
  • स्वदेशी खरीद पर केन्द्रीय बिक्री कर की प्रतिपूर्ति।
  • सभी संबंधित उपकरणों / माल जिसमें उपयोग किया हुआ उपकरण भी शामिल है, उसका (प्रतिबंधित वस्तुओं को छोड़कर) आयात किया जा सकता है ।
  • उपकरण को ऋण के आधार / पट्टे पर भी आयात किया जा सकता है ।
  • सॉफ्टवेयर के निर्यात के लिए उच्च गति का डाटा संचार लिंक उपलब्ध कराया गया है ।
  • अलग से किसी आयात / निर्यात लाइसेंस की आवश्यकता नहीं है ।
  • सरकारी मंजूरी / अन्य सेवाओं के लिए ग्रीन कार्ड के प्राथमिकता के आधार पर उपलब्ध कराता है ।
  • कंपनियों में 100% विदेशी इक्विटी निवेश की अनुमति है ।
  • डीटीए में बिक्री के लिए निर्यात के एफओबी मूल्य के 50% तक की अनुमति।
  • कुछ निश्चित शर्तों के साथ प्रशिक्षण के लिए कम्प्यूटर के आयात की अनुमति।
  • 5 वर्षों की अवधि के लिए त्वरित दरों पर कंप्यूटर के मूल्यह्रास के 100% तक।
  • बिना शुल्क का भुगतान किये कंप्यूटर को दो वर्षों के पश्चात मान्यता प्राप्त गैर वाणिज्यिक शैक्षिक संस्थाओं /अस्पताल को दान में दिया जा सकता है।

ऊपर जायें

4. रजिस्टर कैसे करें ?

निम्नलिखित दस्तावेजों को एसटीपीआई, हैदराबाद के निदेशक के पास जमा कराएं।

  • आवेदन प्रस्तावित प्रपत्र में विधिवत तरीके से प्राधिकृत अधोहस्ताक्षरी के द्वारा हस्ताक्षरित होना चाहिए और उस पर कार्यालयी मुहर लगा होना चाहिए। (एक प्रतिलिपि को जमा कराने की आवश्यकता है )
  • नामांकित अधिकृत हस्ताक्षरकर्ता से संबंधित बोर्ड के प्रस्ताव की प्रतिलिपि।
  • परियोजना प्रतिवेदनः जनशक्ति विशेषज्ञता, प्रौद्योगिकी खंड विपणन और ग्राहक सहायता की व्यवस्था, व्यापार की योजना, सॉफ्टवेयर के प्रकार के विकास की परिकल्पना की गई है, बैलेंस शीट की रूपरेखा, लाभ और हानि खाता, नकदी प्रवाह विवरण, लाभप्रदता का विवरण आदि, की क्षमता के रूप में उद्यम की योग्यता को सही ठहराते हुए।
  • एकल स्वामित्व संस्था के साक्ष्य से संबंधित दस्तावेज/ भागीदारी फर्म / कंपनी पंजीकरण प्रमाणपत्र, संघ का ज्ञापन, लेख का ज्ञापन।
  • अनुबंध की प्रतिलिपि / एमओयू / खरीद आदेश / विदेशी ग्राहकों के साथ आशय पत्र (यदि कोई हो) व्यावसायिक संभावनाओं के समर्थन में।
  • पट्टानामा/ परिसर का बिक्रीनामा।
  • पूर्व से विद्यमान इकाई के मामले में : उत्पाद पंक्ति को निर्दिष्ट किया जा सकता है, पिछले 2 वर्षों के लेखापरीक्षित वार्षिक खातों की प्रतिलिपि को प्रस्तुत किया जा सकता है ।
  • एसटीपीआई के पक्ष में देय 2500 + उपयुक्त जीएसटीों रुपये का डीडी।

ऊपर जायें

5. किसके द्वारा और कितनी जल्दी स्वीकृति ?

एसटीपी योजना के अंतर्गत पंजीयन के लिए प्राप्त सभी आवेदन जो योग्यता के मानकों को पूरा करते हैं (जिनमें विदेशी विनिवेश शामिल है और जो आरबीआई के स्वतः अनुमोदित मार्ग के अधीन नहीं आता है, उसके अतिरिक्त) उनका निपटारा एसटीपीआई के निदेशक के द्वारा 2 सप्ताह के अंदर कर दिया जायेगा।

स्वतः अनुमोदित मार्ग के अधीन विदेशी निवेशः
आरबीआई के स्वतः अनुमोदित मार्ग के अधीन आई टी उद्योग में अधिकतम 100% विदेशी निवेश 600.00 करोड़ रुपये की अनुमति है। ऐसे निवेश को विदेशी विनिमय में मुद्रा का वास्तविक विप्रेषण होना चाहिए।

विदेशी निवेश से संबंधित अन्य स्थितियां:
एसटीपी योजना के अधीन पंजीकरण के लिए आवेदन, जिसमें नीचे वर्णित अनुसार विदेशी निवेश शामिल है, उसे, औधोगिक स्वीकृति के सचिवालय, उद्योग और वाणिज्य मंत्रालय के ईओयू अनुभाग के द्वारा जाँच पड़ताल होगा और स्वीकृत किया जायेगा।

  • 600.00 करोड़ रुपये से अधिक के विनिवेश पर
  • एक विद्यमान कंपनी के शेयरों का विदेशी/एन आर आई/ओ बी सी के द्वारा अधिग्रहण
  • जहां प्रस्तावित निवेश का वास्तविक विप्रेषण विदेशी मुद्रा किया जाना है।

ऊपर जायें

6. आपरेशन की अवधि

आरम्भ में इस योजना के अधीन संचालन की अवधि व्यवसायिक उत्पादन शुरू होने की तारीख से 5 वर्षों के लिए होगी। इस अवधि को पुनः 5 वर्षों के लिए बढ़ाया जा सकता है। आरम्भिक 5 वर्षों की अवधि की समाप्ति के बाद यह इकाई पर निर्भर करता है कि वह या तो योजना से बाहर निकल जाये या पुनः पांच वर्षों की अवधि के लिए योजना का चयन करें और तदनुसार एसटीपीआई के पास अनुरोध करें।

ऊपर जायें

7. अनुमानित निर्यात के अनुसार शुल्क का ढांचाः

क्रम संख्याउस वर्ष निर्यात व्यवसाय शुल्क भारतीय मुद्रा में
1प्रतिवर्ष 25 लाख रुपये तक का निर्यातRs. 8,000 + उपयुक्त जीएसटी
2प्रति वर्ष 25-50 लाख रुपये के बीच निर्यातRs. 16,000 + उपयुक्त जीएसटी
3प्रतिवर्ष 50-300 लाख रुपये के बीच निर्यातRs. 55,000 + उपयुक्त जीएसटी
4प्रतिवर्ष रुपये 3-10 करोड़ के बीच निर्यातRs 1,10,000 + उपयुक्त जीएसटी
5प्रतिवर्ष 10-25 करोड़ रुपये के बीच निर्यातRs. 2,25,000 + उपयुक्त जीएसटी
6प्रतिवर्ष 25-50 करोड़ रुपये के बीच निर्यातRs. 2,50,000 + उपयुक्त जीएसटी
7प्रतिवर्ष 50-100 करोड़ रुपये के बीच निर्यातRs. 3,50,000 + उपयुक्त जीएसटी
8प्रतिवर्ष 100-500 करोड़ रुपये के बीच निर्यातRs. 5,75,000 + उपयुक्त जीएसटी
9प्रतिवर्ष 500-1000 करोड़ रुपये के बीच निर्यातRs. 6,00,000 + उपयुक्त जीएसटी
10प्रतिवर्ष 1000 करोड़ रुपये से अधिक का निर्यातRs. 6,50,000 + उपयुक्त जीएसटी

कानूनी उपक्रम को क्रियान्वित करने के समय, तीन साल के लिए अग्रिम न्यूनतम सेवा शुल्क के रूप में 24,000 + उपयुक्त जीएसटी रुपये का भुगतान किया जाएगा

ऊपर जायें

8. परिसर के बारे में

उद्योग की स्थापना के उद्देश्य से आईटी सॉफ्टवेयर उद्योग को संबंधित अधिनियमों से जुड़ने के लिए छूट प्रदान किया गया है। इस लिए एसटीपी इकाई को कहीं भी स्थापित किया जा सकता है। इन इकाईयों को एसटीपीआई काम्प्लेक्स / हाईटेक सिटी या खुद के स्वामित्व वाले या पट्टे पर लिये गए स्थान में कही भी स्थापित किया जा सकता है, जो एसटीपीआई के निदेशक के न्यायाधिकर क्षेत्र के अधीन आता हो, और सीमा शुल्क सर्किल और इकाई का परिसर सीमा शुल्क के संबंध के लिए उत्तरदायी होगा।


आवास की उपलब्धता के बारे में जानकारी के लिए संपर्क करें :

भारत का सॉफ्टवेयर प्रौद्योगिकी पार्क

6Q3, साइबर टावर्स, हाईटेक सिटी

मधापुर, हैदराबाद - 081 500.

फोनः 23100500

ऊपर जायें

9. संचालन आरम्भ करना

  • आयातक / निर्यातक कोड के आवंटन के लिए, प्रस्तावित प्रपत्र में उप डी.जी.एफ.टी. हैदराबाद के पास आवेदन करें।
  • आयात किये जाने वाले पूंजीगत वस्तुओं की एक सूची (तीन प्रतियों में) जिसकी खरीद स्वदेश में किया गया है और जो इकाई के द्वारा किए गए सॉफ्टवेयर के निर्माण / विकास के लिए प्रासंगिक है उससे संबंधित वस्तुओं का विवरण जैसे कि मदों के नाम, मात्रा, दर, कुल मूल्य, शुल्क का दर , शुल्क का मूल्य आदि. एसटीपीआई को प्रस्तुत करें । इस सूची को एसटीपीआई द्वारा अनुमोदित किया जाएगा और इसे इकाई को दिया जायेगा, जिससे कि वे इसमें सीमा शुल्क और केंद्रीय उत्पाद शुल्क का विवरण भर सके।
  • एसटीपीआई से कस्टम संबंध लाइसेंस के लिए स्वीकृति प्राप्त करें और फिर सीमा शुल्क और केंद्रीय उत्पाद शुल्क विभाग के पास निर्धारित प्रपत्र में आवेदन करें। निजी गोदाम के लिए उन दस्तावेजों को पेश करें जो इस तथ्य को प्रमाणित करता हो कि आपका प्रस्तावित परिसर आपके स्वामित्व के अधीन /पट्टे पर लिया गया है, जहाँ आप परिसर के फर्श की योजना के साथ सॉफ्टवेयर का विकास करना चाहते हैं। लाइसेंस 2 सप्ताह में प्रदान किया जाता है।
  • एसटीपीआई, हैदराबाद को उपर्युक्त लाइसेंस की एक प्रतिलिपि प्रस्तुत करें।
  • यदि एसटीपीआई डेटा संचार लिंक की आवश्यकता है, तो उपयुक्त प्रपत्र में आवेदन को भर कर उसे पंजीकरण शुल्क, स्थापना शुल्क और एक-चौथाई टैरिफ की समकक्ष राशि के साथ एसटीपीआई के पास जमा कराये। ग्राहकों की आवश्यकता को पूरा करने के लिए लिंक प्राथमिकता के आधार पर दिया जाएगा । अधिक जानकारी के लिए कृपया संपर्क करें या हमारे एसटीपीआई के किसी संस्थान से पता करें।
  • आयातः पूंजीगत माल के आयात के लिए जो सॉफ्टवेयर के विनिर्माण / विकास के लिए प्रासंगिक है, एसटीपीआई, हैदराबाद के पास आवेदन करें। निर्धारित प्रपत्र में विधिवत रूप से विक्रेता से प्रोफार्मा चालान आयात प्रमाणपत्र जारी करने के लिए संलग्न करें।
  • यदि वस्तुओं को ऋण के आधार पर आयत किया जाता है तो उसके समर्थन में दस्तावेज प्रस्तुत करें, जो यह दिखाएँ कि उन्हें ऋण पर लिया गया है।
  • पुराने वस्तुओं का भी आयात किया जा सकता है।
  • घरेलू/विदेशी पट्टे पर देने वाली कंपनी से वस्तुओं को पट्टे पर प्राप्त किया जा सकता है।
  • कार्यालय उपकरणों के आयात/ स्वदेशी खरीद के लिए स्थापित पूंजीगत माल के कुल मूल्य के 20% तक की अनुमति है।

स्वदेशी पूंजीगत माल की खरीदः

एसटीपीआई द्वारा अनुमोदित और केंद्रीय उत्पाद शुल्क विभाग को प्रस्तुत किये गए स्वदेशी पूंजीगत माल की सूची के आधार पर, केंद्रीय उत्पाद शुल्क विभाग से सी.टी. 3 प्रमाण पत्र प्राप्त करने के बाद उत्पाद शुल्क से मुक्त उपकरण खरीदा जा सकता हैं।

ऊपर जायें

10. निर्यात कैसे करें

विकिसत किये सॉफ्टवेयर को डाटा कम्युनिकेसन लिंक/ भौतिक मीडिया के माध्यम से निर्यात किया जा सकता हैं या विदेशों में सॉफ्टवेयर को ग्राहक के स्थल पर इकाई के सॉफ्टवेयर पेशेवरों को नियुक्त करके विकसित किया जा सकता हैं।

भारत में विकसित सॉफ्टवेयर का निर्यातः

  1. डाटा कम्युनिकेशन लिंक के माध्यम सेः जैसे ही सॉफ्टवेयर को डाटा कम्युनिकेसन लिंक के माध्यम से निर्यात किया जाता हैं, निर्धारित प्रपत्र में एक सॉफ्टवेयर घोषणा पत्र जिसे सॉफ्टेक्स प्रपत्र कहा जाता हैं, उसे विधिवत रूप से भरकर तीन प्रतियों में निम्नलिखित दस्तावेजों के साथ चालान की तारीख से३० दिनों के अंदर मंजूरी के लिए एसटीपीआई के पास जमा कराये।
    • चालान (3 प्रतियों में)
    • ग्राहक अनुबंध /डब्ल्यू.ओ / पी.ओ
    • एसटीपीआई, हैदराबाद द्वारा निर्धारित प्रपत्र में परियोजना का विवरण
    • सॉफ्टवेयर के निर्यात के समर्थन में डेटा संचरण विवरण (निर्धारित प्रपत्र में)
    • ऐसे मामले में जहां डाटा संचार लिंक एसटीपीआई के अलावा किसी अन्य सेवा प्रदाता से प्राप्त किया जाता है, ऐसे संयोजकता के समर्थन में उचित दस्तावेज प्रस्तुत करें।
  2. भौतिक साधनः जीआर प्रपत्र को रिजर्व बैंक से प्राप्त कर उसे विधिवत् रूप से भर कर, ग्राहक अनुबंध के साथ, नकली चालान और तीन प्रतियों में शिपिंग बिल के प्रतिलिपि को एसटीपीआई, हैदराबाद के पास मंजूरी के लिए जमा कराये. एसटीपीआई से मंजूरी के पश्चात, सभी दस्तावेजों को निर्यात की मंजूरी के लिये सीमा शुल्क विभाग के समक्ष प्रस्तुत किया जाना चाहिए।
    यदि निर्यात का कार्य डाक प्रणाली के द्वारा किया जाता है तब, विधिवत रूप से भरा हुआ और अधिकृत बैंकर द्वारा प्रतिहस्ताक्षरित पीपी प्रपत्र के साथ साथ ग्राहकों का अनुबंध और चालान को निर्गम के लिए एसटीपीआई को प्रस्तुत किया जाना चाहिए। निर्गम के पश्चात, दस्तावेजों को भेजने के लिए डाक विभाग के समक्ष प्रस्तुत किया जाना चाहिए।

ऊपर जायें

11. ऑनसाइट परामर्शी परियोजनायें

  • इस श्रेणी में इकाई विदेशों में ग्राहक के स्थल पर पेशेवरों को नियुक्त कर सेवाएं प्रदान करता है, जैसे ऑनसाइट परामर्शी सेवा. इन इकाइयों के लिए तिमाही प्रारूप प्रस्तुत करना अनिवार्य है, जो डाउनलोड पृष्ठ पर उपलब्ध है। ( http://www.hyd.stpi.in/downloads/onsite_format.doc )

ऊपर जायें

12. घरेलू बाजार में बिक्रय

  • किसी वित्तीय वर्ष में सॉफ्टवेयर के निर्यात की न्यूनतम सीमा (निर्यात दायित्व के रूप में जानते हैं) को प्राप्त करने के बाद इकाई को एसटीपीआई निर्यात मूल्य का 50% के सीमा तक घरेलू टैरिफ क्षेत्र में बिक्री के लिए विशेष अनुमति प्राप्त कर मुद्रा अर्जित कर सकता है।
  • इकाई के द्वारा किया गया घरेलू बिक्रय जिसके लिए विदेशी मुद्रा में भुगतान प्राप्त होता है,उसे भी निर्यात आय के रूप में माना जाता है। इस उद्देश्य के लिए एसटीपीआई से विशिष्ट अनुमोदन प्राप्त किया जाना है ।
  • उप-ठेकाः डीटीए इकाई पर या अन्य ईओयू / ईपीजेड / ईएचटीपी / एसटीपी इकाइयों के लिए सीमा शुल्क के सहायक आयुक्त से आवश्यक अनुमति प्राप्त करने के बाद कार्य के माध्यम से एसटीपी इकाईयां काम / प्रक्रिया का उप अनुबंध प्राप्त कर सकती हैं।

ऊपर जायें

13. प्रशिक्षण के लिए कंप्यूटर सिस्टम का प्रयोग

  • एसटीपी इकाइयों को सीमा शुल्क और केन्द्रीय उत्पाद शुल्क के सहायक आयुक्त से आवश्यक मंजूरी प्राप्त करने के बाद प्रशिक्षण के उद्देश्य के लिए कंप्यूटर सिस्टम (व्यावसायिक प्रशिक्षण सहित) का उपयोग करने के लिए भी अनुमति दिया जा सकता है, जो निर्यात दायित्व को पूरा करने का विषय होगा और कोई भी कंप्यूटर टर्मिनल इस उद्देश्य के लिए निर्धारित परिसर के बाहर स्थापित नहीं किया जाएगा.

ऊपर जायें

14. उपकरणों का निष्पादन

  • यदि कोई एसटीपी इकाई आयातित उपकरण / माल का उपयोग करने में सक्षम नहीं है, तो यह फिर से निर्यात कर सकता है या उन्हें डीटीए में लागू शुल्कों का भुगतान कर बेच सकता है ।

ऊपर जायें

15. पुराने उपकरण

  • उस वस्तु के घटे हुए मूल्य पर सीमा शुल्क का भुगतान कर उसे डीटीए में बेचा जा सकता है ।यदि ऐसे उपकरणों को सीमा शुल्क और केंद्रीय उत्पाद शुल्क के सहायक आयुक्त की अनुमति से नष्ट किया जाता है, तो कोई शुल्क देय नहीं है।

ऊपर जायें

16. योजना से बाहर निकलना

  • एसटीपी इकाइयों के संचालन की अवधि सामान्य रूप से 5 वर्ष के लिए होगी। निदेशक, एसटीपी एसटीपी इकाई के विघटन की अनुमति प्रदान करेगा अगर यह निर्यात दायित्व और अनुमोदन के पत्र की अन्य शर्तों को पूरा करता है।
  • यदि इकाई ने निर्यात दायित्वों और स्वीकृति पत्र के अन्य शर्तों को पूर्ण नहीं किया है, तब इस मामले को स्वीकृति पत्र की शर्तों की गैर-पूर्ति के कारण दंडात्मक कार्रवाई के लिए डीजीएफटी को भेजा जाएगा। इस इकाई को सीमा शुल्क, केंद्रीय उत्पाद शुल्क का भुगतान करना भी आवश्यक होगा और यह परिनिर्धारित नुकसान की वसूली के लिए भी उत्तरदायी होगा।

ऊपर जायें

17. इकाई का दायित्व क्या हैं- क्या करें और क्या नहीं करें

करें

  1. योजना के अधीन उत्पादन इकाई का विकास/उत्पादन एक सीमा शुल्क निर्धारित क्षेत्र में किया जाएगा।
  2. योजना के निर्धारित अवधि के दौरान उत्पादन शुरू करने और निर्यात करने की अनुमति दी जायगी। वाणिज्यिक उत्पादन के प्रारंभ होने की तिथि के 30 दिनों के भीतर एसटीपीआई को सूचित करें। यदि योजना के अधीन इकाई की स्थापना स्वीकृति पत्र (एलओपी) जारी होने के 2 वर्ष की अवधि के भीतर वाणिज्यिक उत्पादन और निर्यात शुरू नहीं किया जाता है, तब उपरोक्त दो वर्ष की अवधि समाप्त होने के बाद एलओपी स्वतः बेकार हो जाता है।
  3. इकाई एक शुद्ध विदेशी मुद्रा अर्जक (एनएफई) होना चाहिए और एनएफई 5 वर्ष की अवधि में सकारात्मक होना चाहिए।
  4. इकाई को निर्यात की तिथि से 180 दिनों या अनुबंध में वर्णित भुगतान की तिथि, जो भी पहले हो, उसके भीतर किए गए निर्यात के लिए देय राशि का भुगतान प्राप्त करना चाहिए।
  5. यदि इकाई योजना के अधीन निर्यात और अन्य दायित्वों को पूरा करने में विफल रहता हैं, तब यह खरीद की वस्तुओं पर सीमा शुल्क और उत्पाद शुल्क, और ऐसे अन्य दंड और परिनिर्धारित नुकसानी जिसे सरकार द्वारा निर्णित किया जायेगा, उसके भुगतान करने के लिए उत्तरदायी होगा।
  6. बाह्य वाणिज्यिक उधार के लिए सहायता प्राप्त करने के मामले में, वित्त मंत्रालय से आवश्यक अनुमति प्राप्त किया जाना चाहिए।
  7. यूएस नियंत्रित वस्तुओं के निर्यात के मामले में, कृपया 100% ईओयू के लिए अनुमोदन के पत्र के साथ संलग्न शर्त के क्रम. संख्या.9 के प्रासंगिक प्रावधान मानक का पालन करें।
  8. इस योजना के अधीन संचालन के लिए अलग - अलग खातों को बनाए रखें।
  9. निर्धारित रिकॉर्ड और दस्तावेज़ को बनाए रखें।
  10. निम्नलिखित मामलों में मंजूरी के लिए एसटीपीआई के पास आवेदन करेः
    • इकाई की स्थिति, नाम या पता में किसी प्रकार का परिवर्तन होने पर
    • परिचालन के लिए परिसर में किसी प्रकार की वृद्धि करने पर
    • मरम्मती, अस्थायी स्थानांतरण, स्थायी स्थानांतरण, अंतर इकाई स्थानांतरण, निपटान, आदि की दशा में उपकरणों को निर्धारित गोदाम से कहीं दूसरे स्थान पर ले जाने पर.
    • आयातित उपकरणों की मरम्मत / प्रतिस्थापन के लिए निर्यात करने पर ।
    • ऋण के आधार पर आयातित उपकरणों के पुनः निर्यात के लिए।
    • निर्यात किये जाने वाले पूंजीगत वस्तुओं की सीमा में वृद्धि के लिए।
    • डीटीए में बिक्रय के लिए अनुमति प्राप्त करने के लिए।
    • उपकरण को बंधन मुक्त करने के लिए/ इकाई को बंधन मुक्त करने के लिए।
    • सीएसटी की प्राप्ति के लिए।
    • आयातित पूंजीगत वस्तु और सामग्री की बिक्री के लिए।
    • अप्रचलित उपकरण के निपटान के लिए।
    • अप्रचलित उपकरण को दान करने के लिए।
  11. एसटीपीआई को समय पर बकाए राशि का भुगतान करें।
  12. निर्धारित प्रपत्र में वार्षिक प्रदर्शन रिपोर्ट समय पर प्रस्तुत करें।
  13. मासिक और त्रैमासिक प्रदर्शन रिपोर्ट ऑनलाइन सदस्य पोर्टल के माध्यम से भेजें.

नहीं करें।

  1. शुल्क मुक्त खरीदे गए उपकरणों का उपयोग उन कार्यों में नहीं करे जिसे इस योजना में शामिल नहीं किया गया है।
  2. सीमा शुल्क बंधपत्रित गोदाम परिसर में ऐसे किसी भी कार्य का संचालन नहीं करें, जिसे इस योजना में शामिल नहीं किया गया है ।
  3. डाटा सर्किट विशेष रूप से दो निर्दिष्ट स्थानों के बीच डेटा के संचरण के उद्देश्य से है और किसी भी कंपनी को उप पट्टा पर देना या किसी अन्य स्थान पर फिर से स्थापित करना सख्त वर्जित है।
  4. भारतीय दूरसंचार अधिनियम के अनुसार, डेटा सर्किट को पीएसटीएन पर आवाज के उद्देश्य के लिए उपयोग नहीं किया जाना चाहिए।

ऊपर जायें

18. नियमों और विनियमों का अनुपालन

उपरोक्त वर्णित विभिन्न चरण / प्रक्रियाएं/आवश्यकताएं नीचे वर्णित नियमों और विनियमों के प्रावधानों के अनुसार हैं और इनका अनुपालन इकाईयों के द्वारा अवश्य किया जाना चाहिए।

  1. एसटीपी योजना और 100% ईओयू अनुमोदन पत्र में वर्णित नियम और शर्तें और अनुलग्नक परिशिष्ट कानूनी अनुबंध हैं।
  2. आयात / निर्यात नीति और प्रक्रियाओं का प्रावधान, विदेश व्यापार विनियमन अधिनियम, सीमा शुल्क और केन्द्रीय उत्पाद शुल्क विनियमन और किसी अन्य सरकारी नियमों / निर्देश, एसटीपीआई के आदेश आदि. जो लागू हो सकता है।

ऊपर जायें

उपरोक्त वर्णित अनुमोदन / अनुमति के विभिन्न आवेदन प्रारूपों के लिए कृपया यहाँ क्लिक करें।

19. आंध्र प्रदेश राज्य सरकार द्वारा आईटी उद्योग को प्रदान किया गया प्रोत्साहन

सरकार के आदेश, नीतियां, प्रोत्साहन, प्रोत्साहन योजना के दावे के लिए पंजीकरण, के बारे में अधिक जानकारी के लिए, सरकारी वेबसाइट http://apit.ap.gov.in/ & http://www.portal.ap.gov.in पर ब्राउज करें।

उपरोक्त वर्णित तथ्यों के बारे में किसी स्पष्टीकरण के लिए, कृपया संपर्क करेः
संयुक्त निदेशक (प्रचार)

आईटी और सी विभाग, ए पी सचिवालय

हैदराबाद,

फोनः 23450048


एसटीपीआई और एसटीपीआई योजना के बारे में जानकारी के लिए, कृपया एसटीपीआई हैदराबाद से संपर्क करें। एसटीपीआई - हैदराबाद

अतः आइये चलने के लिए तैयार हो जाये...

ऊपर जायें


सर्वश्रेष्ठ 800x600 संकल्प के साथ देखा कॉपीराइट © भारत के सॉफ्टवेयर प्रौद्योगिकी पार्क